जीएसटी के बाद मोदी के एक और धमाकेदार फैसले से देश में खलबली, देश में आज तक नहीं हुआ था ऐसा !

नई दिल्ली  : 1 जुलाई से पीएम मोदी ने एक देश एक टैक्स के तहत जीएसटी लागू कर दिया है. इसे पीएम मोदी का एक बेहद महत्वपूर्ण व् ऐतिहासिक कदम माना जा रहा है, जिससे भारत में व्यापार करना और भी ज्यादा आसान हो जाएगा और जीडीपी भी तेजी से बढ़ेगी. अब खबर आ रही है कि मोदी सरकार ने जीएसटी के बाद एक और जबरदस्त फैसला लिया है, जो देश की शक्लो-सूरत सदा-सदा के लिए बदल कर रख देगा

मोदी सरकार अब भारत की यातायात व्यवस्था को पूरी तरह से बदलने जा रही है. लंदन के ट्रांसपोर्ट सिस्टम की तर्ज पर भारत की यातायात व्यवस्था में व्यापक बदलाव लाये जाएंगे. सबसे ख़ास बात ये रहे गई कि मोदी सरकार अब एक ऐसा कार्ड लाने जा रही है, जिससे देश भर में कहीं भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट से सफर किया जा सकेगा.

यानी टिकट खरीदने के झंझट से मुक्ति. लंदन में इस्तेमाल होने वाले Oyster कार्ड की तर्ज पर मोदी सरकार की कोशिश एक ऐसा भारत यात्रा कार्ड  लाने की है, जिसके इस्तेमाल से देश के किसी राज्य के किसी भी पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सफर किया जा सके. यानी किसी भी राज्य की बस, मेट्रो, मेट्रीनो में इस कार्ड का इस्तेमाल करके यात्रा की जा सके.Image result for जीएसटी के बाद मोदी के एक

ये सिंगल मोबिलिटी कार्ड एटीएम कार्ड की तरह ही होगा और इसमें एक एक्स्ट्रा चिप लगी होगी. यानि टिकट के लिए कैश व् खुल्ले पैसे साथ रखने के झंझट से सदा के लिए छुटकारा. टिकट की लम्बी लाइनों का सदा के लिए अंत. मेट्रो स्मार्ट कार्ड की तरह भारत यात्रा कार्ड से भी यात्रा करने के पैसे कटते रहेंगे. बताया जा रहा है कि सरकार बैंकों से भी बात कर रही है कि यदि हो सके तो बैंक एटीएम में ही एक छोटी चिप लगा दें जिससे किसी अन्य कार्ड की जरुरत ही ना रहे, आप अपने एटीएम कार्ड से ही यात्रा कर सकेंगे.

केंद्रीय ट्रांसपोर्ट मंत्रालय जल्द ही राज्यों के परिवहन मंत्रियों की बैठक बुलाकर सिंगल मोबिलीटी कार्ड (भारत यात्रा कार्ड) और  बस-पोर्ट को अंतिम रूप देने जा रहा है. राज्य सरकारों से सहमति बनाने के लिए राज्य के परिवहन मंत्रियों को लंदन ले जाकर वहां के ट्रांसपोर्ट सिस्टम का अध्ययन कराने के प्रस्ताव पर भी केंद्रीय परिवहन मंत्रालय विचार कर रहा है.

यानी लंदन जा कर इस कार्ड के फायदे देखने के बाद राज्यों की सहमति ली जायेगी. इसी के साथ मोदी सरकार अंतर्राज्यीय बस अड्डों और बड़े शहरों के बस स्टेशनों को भी एयरपोर्ट की तर्ज पर बेहद मॉडर्न व् अत्याधुनिक बनाने जा रही है. इसके लिए सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने बाकायदा एक प्रपोजल भी तैयार किया है, जिसके तहत बड़े और बिजी बस स्टेशनों को बस-पोर्ट के तौर पर विकसित किया जाएगाRelated image

पीएम मोदी गुजरात में अपने मुख्यमंत्री रहते हुए अहमदाबाद और वडोदरा के बस स्टेशनों को पहले ही आधुनिक और मॉडर्न सुविधाओं से लैस बना चुके हैं. इसी से ट्रांसपोर्ट मंत्रालय को बसपोर्ट बनाने का आइडिया मिला, जिससे देशभर के व्यस्त बस अड्डे बिलकुल एयरपोर्ट जैसे दिखने लगेंगे. मंत्रालय के मुताबिक बसपोर्ट में एयरपोर्ट की तरह ही अराइवल और डिपार्चर के लिए अलग-अलग व्यवस्था, कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स व् पार्किंग एरिया होगा.

इन दोनों प्रस्तावों पर विस्तृत चर्चा के लिए केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी अगस्त के महीने में सभी राज्यों के परिवहन मंत्रियों की दिल्ली में बैठक करने जा रहे हैं. मोदी सरकार अक्टूबर में राज्य के ट्रांसपोर्ट मंत्रियों को लंदन का दौरा कराएगी, जिसके बाद एक कार्ड के जरिये देश के किसी भी राज्य में घूमा जा सकेगा.Image result for gst modi

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*