यहाँ है अजीब रिवाज, सुहागरात के दौरान कपल के रूम के बाहर बैठा रहता है पूरा गाँव, जानें वजह?


अगर बात हम धर्मिकता और रीति रवाजों की बात करें तो हमारे भारत में इनकी संख्या बाकि सारे देशों से बहुत ज्यादा है यहाँ पर कई तरह के रीति रिवाजों को माना जाता है, देश इतना आगे बढ़ गया है तो भी इन परम्पराओं में से आज कल हमे कहीं न कहीं इस प्रकार की अजीबो गरीब परम्पराएँ देखने को मिल जाती है जिन्हें सुनकर आपके होश ही उड़ जाते हैं और ऐसी ही एक परम्परा के बारे में बताने जा रहे हैं|

source

आज देश भले ही इतनी तरक्कियां कर रहा हो महिलाओं और पुरुषों को बराबर लाकर खड़ा कर दिया हो लेकिन आज भी ऐसी कुछ नीच परम्पराएँ निभाई जाति है जो देश की इज्जत को शर्मसार करती हैं और भारत के समाज पर सवाल खड़ा कर रहीं हैं और इन सब रीति रिवाजों का सबसे ज्यादा नुकसान जिसे उठाना पड़ता है वो है महिलाएं और लडकियां हैं|

source

मर्द तो इन परम्पराओं के खामियाजे से आसानी से बाख निकलते हैं आज के समय में जहाँ पर लोग अपनी मर्जी से शादी करते हैं और ना भी करें तो शादी के बाद पति-पत्नी का हनीमून जाना तो एक रस्म बन चुकी हैं वहीं दूसरी ओर कई ऐसी जगहें भी हैं भारत में जहां हनीमून को पाप माना जाता है यही नहीं जिस परम्परा के बारे में हम बताने जा रहे हैं उसे सुनकर तो आपको भी शर्म आ जायेगी|

source

भारत में शादी के बाद पति पत्नी की पहली रात को उनके जीवन की सबसे खास रात मानी जाती है और वो लम्हा किसी भी लड़की और लड़के के लिए सबसे खास लम्हा होता है, इस दिन लोग दोनों को एक दुसरे के साथ समय बिताने केलिए अकेला छोड़ देते हैं लेकिन इस जगह पर इंसान को अपनी सुहागरात सब लोगों के सामने ही मनानी पढ़ती है जो सुनने में बहुत अजीब है|

source

पर यह खबर बिलकुल सच है बता दें कि भारत में एक कंजरभट नाम का एक समुदाय है जहां शादी की रत को लड़के और लड़की को अकेले छोड़ने की बजाय पूरा का पूरा गाँव उनके कमरे के पास खड़ा रहता है, दरअसल वह लोग इस दौरान लड़की की कौमार्य का निरीक्षण करते हैं यहाँ पर इतने सारे पढ़े लिखे लोग हैं इसके बावजूद भी यहाँ इस परम्परा को मनाया जाता है|

source

यहाँ पर अगर लड़की गाँव वालों की नजर में वर्जिन साबित हो जाये तो सब ठीक है वरना उसके साथ कुत्तों से भी ज्यादा बुरा सलूक किया जाता है इस समुदाय के लोग भारत में लगभग हर जगह मौजूद हैं कई कंजरभट लोग इसका विरोध भी करते हैं लेकिन इस कुरीति को रोकने में कामयाब नहीं हुए यहाँ शादी से पहले एक होटल का कमरा बुक क्र दिया जाता है और यहाँ पर उन्हें सम्बन्ध बनाने के लिए सफ़ेद चादर दी जाती है|

source

इस दौरान गानों का मुखिया और बाकि लोग सब कमरे के बाहर ही मौजूद रहते हैं यहा सम्बन्ध बनाने से पहले लड़की को सारे गहने उतरने को कहा जाता है क्योंकि सफ़ेद चादर पर खून के दाग लगना ही लड़कियों को इस टेस्ट में पास करवाता है इस बीच रात में दुल्हा सफ़ेद चादर को कमरे के बाहर मुखिया को सौंप देता है और फिर निर्णय होता है कि वो गाँव की बहु है या नहीं|

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*